कावेरी अभिला से पूछती है कि उसने अरमान का कॉलर क्यों रोका, जिसपर अरमान उसे यह बताने का प्रयास करता है कि अबिला के साथ कुछ गलत नहीं है।

माधव और मनोज ने जोड़े को समर्थन देते हैं और विवाद से बचने के लिए कहते हैं, लेकिन विद्या कहती है कि अबिला का अशिष्ट व्यवहार असहनीय है।

मनीष ने अपने किए की कीमत पर चर्चा करते हुए कहा कि अबिला के मामले को नष्ट करने का अधिकार नहीं है और इससे उसे अपने मुकदमे का खर्च उठाना पड़ेगा।

अरमान को यह अहसास होता है कि उसने रूही के साथ अपनी स्थिति खराब कर ली है और वह रूही के परिवार पर अपना गुस्सा क्यों निकाला।

अरमान अभिरा को अपना काम फिर से करने के लिए प्रेरित करता है, जिससे वह अपने सपने को हासिल करने के लिए लड़ सके।

रूही अरमान का फोन छीन लेती है और अपने परिवार का अपमान न करने के लिए अरमान से कहती है।

मनीष द्वारा जो कुछ हुआ उसके लिए अरमान माफी मांगता है और उसे आश्वासन देता है कि किसी ने जानबूझकर कुछ नहीं किया।

अभिरा को हार मानते हुए अरमान को अपना सामर्थ्य दिखाने के लिए कहती है क्योंकि वह जो सपना देखा है उसे हासिल करने में सक्षम है।

अरमान और रूही के बीच की बातचीत में सुधार होता है, और वह आपसी समझ बनाते हैं कि कैसे वह आपसी समर्थन कर सकते हैं।