अभिमन्यु को टीम के खिलाड़ी नहीं मानने और ड्यूटी से भागने की स्थिति: महिमा द्वारा किया गया आरंभिक डांटना इसके कारण होता है।

अभिमन्यु का कर्तव्य मरीजों के प्रति: अभिमन्यु द्वारा बताया जाता है कि उनका पहला कर्तव्य हमेशा मरीजों के प्रति होता है और अस्पताल प्रबंधन के लक्ष्य यह है कि मरीजों के परिचय को पहले नहीं रखा जाता है।

अभिमन्यु का आपत्ति करना: अभिमन्यु महिमा से यह कहता है कि उन्हें चाहिए कि वह और मंजरी जल्द ही समझें कि वे मरीजों के पैसों के पीछे नहीं हैं.

महिमा की चिंता: महिमा अभिमन्यु से कहती है कि वह चाहती है कि वह समझे कि वह अपनी जीवन को एक व्यक्ति के लिए नुकसान पहुँचा रही है।

अभिमन्यु की रवानगी: अभिमन्यु का अस्पताल से चला जाना और उसका आरोही को बताना कि वह वापस आया है.

अक्षरा की चिंता: अक्षरा अभिमन्यु के पास जाने की तैयारी करती है, लेकिन उसे नहीं जानना चाहिए.

महिमा की योजना: महिमा अक्षरा को अभिमन्यु को वापस लाने के लिए सहायक बनने की योजना बनाती है और दूसरे अस्पताल में नौकरी के लिए आवेदन करने का उल्लंघन करती है.

मनोबल का गिरना: अभिमन्यु के द्वारा अपने असपताल के कर्मचारियों के मनोबल का गिरना.

अभिमन्यु की प्रतिबद्धता: अभिमन्यु द्वारा अपने कर्तव्य के प्रति अपनी प्रतिबद्धता.

अक्षरा की चिंता: अक्षरा की चिंता जब वह यह सुनती है कि महिमा दूसरे अस्पताल में काम करने वाली है.

नर्स की जानकारी: नर्स द्वारा अक्षरा को अभिमन्यु को वापस लाने की स्थिति की जानकारी देना.