श्रुति की सूचना: – श्रुति को मिस जोशी के बारे में पता चलता है और उसका फोन आता है, जिसमें वह बताती है कि मिस जोशी रेस्तरां मालिक के घर में रह रही हैं।

आध्या की चिंता: – श्रुति की सूचना के बाद, आध्या चिंतित हो जाती है और श्रुति से पूछती है कि क्या वह भी उनके साथ जा सकती है।

माही का विदाई समय: – डिंपी, लीला, इशानी, और अंश के साथ विदाई का समय, जिसमें माही वेनराज को अपने भावनाओं का इज़हार करती है और उनसे अलविदा कहती है।

हसमुख की सत्ता: – हसमुख प्रवेश करता है और कहता है कि न तो काव्या और न ही माही घर छोड़ेंगे, इससे घर में तनाव बढ़ता है।

हसमुख की बातचीत: – हसमुख, वनराज से माही को उससे दूर रहने का साथ देने के लिए कहता है, लेकिन उसके मन में बच्चे के प्रति नकारात्मक भावनाएं हैं।

काव्या की समर्थन: – काव्या हसमुख का समर्थन करती है और माही को घर में रहने की अनुमति देती है, इसके बाद वनराज चुप हो जाता है।

श्रुति और अनुज की चिंता: – श्रुति और अनुज का यशदीप की स्थिति से चिंता होता है, जिससे वे उसे समर्थन देने का निर्णय लेते हैं।

अनुपमा का दौरा: – अनुपमा किंजल के घर पहुँचती है, जहाँ परी बीमार है और तोशु उसे सहारा नहीं देता, जिससे अनुपमा उस पर भड़कती है।

तोशु की बेहूदगी: – तोशु का बेहूदा व्यवहार दिखाता है जब उसे अनुपमा के साथ घर छोड़ने की कोशिश करता है, जिससे अनुपमा रोने लगती है।