24 सितंबर 2023 के 'राधा मोहन' के एपिसोड की शुरुआत मोहन और अजीत के साथ होती है, जब वे राहुल को अस्पताल ले जाते हैं।

राधा दुर्घटना के लिए खुद को दोष देने का आरोप लगाती है, जिसके बाद वह आंसू बहाती है।

कदम्बरी उसे समझाती है कि यह उसकी ग़लती नहीं है, क्योंकि इस तरह की दुर्घटनाएँ किसी के साथ हो सकती हैं।

तुलसी को लगता है कि यह दमिनी की साजिश है और वह महल में टेलीपोर्ट होती है।

दमिनी को एक ड्रिंक का आनंद लेते हुए देखकर तुलसी गुस्सा होती है और कवेरी के साथ उन्हें लक्ष्य बनाती है।

वह दमिनी के गिलास को टेबल पर फिसल देती है, जिससे वह फूट जाता है, जबकि कवेरी तुलसी की मौजूदगी का चिल्लाती है।

तुलसी दमिनी की गर्दन पकड़कर दबाती है और उसे कहती है कि वह उसे आज नहीं छोड़ेगी।

कवेरी अपनी बेटी को छोड़ने के लिए तुलसी से बेग करती है।

क्या दमिनी तुलसी को अपनी योजना को बिगाड़ने से रोकने के लिए कुछ करेगी?