अमेरिका में अनुज और अनुपमा पासकर का मिलना अभी तक संभव नहीं हो पा रहा है।

अनुपमा को लगता है कि छोटी उससे नफरत करती है।

अनुपमा अपने बेटे के साथ अमेरिका में होने वाले ड्रामा में शामिल होती है।

किंजल अपनी सास का इस्तेमाल करने का नया कदम उठाएगी।

किंजल के घर जाने पर अनुपमा को नशे में धुत तोषू की अनदेखी सच्चाई सामने आती है।

रात को किंजल तोषू से कहती है कि अनुपमा की जरूरत है, नहीं तो उसे घऱ में रहने दो।

किंजल की सहायता से अनुपमा का ऑफिस काम के लिए निकलना संभव होता है, पर मीटिंग के लिए वह लेट हो जाएगी।

तोषू की बेहतरीन सहायता के बावजूद, किंजल के घर रहने से अनुपमा की मुश्किलें बढ़ जाती हैं।

अनुपमा की मीटिंग में देरी होने से उसे और अनुज को एक-दूसरे से मिलने का मौका मिलता है, जिससे उनमें भावनाएं उभरती हैं।