Radha Mohan 21st July 2023 Written Update | त्रिवेदी जी के साथ एक रहस्यमयी बातचीत

Radha Mohan 21st July 2023 Written Update: राधा मोहन 21 जुलाई 2023 के एपिसोड में, राधा दामिनी और उनके मकसदों के बारे में सच्चाई सामने लाने का प्रयास करने लगती हैं। हालांकि, परिवार से उसे विरोध का सामना करना पड़ता है, और मोहन संदेहवादी बने रहते हैं। फिर गुंगुन राधा की सुरक्षा के लिए खड़ी होती हैं, जिससे एक रोमांचकारी मुठभेड़ का सामना भी होता है।

दामिनी की बढ़ती हुई सवालों की चोट (Radha Mohan 21st July 2023 Written Update)

राधा त्रिवेदी जी से यह अनुरोध करती हैं कि वे चुप रहें और सोचें कि आज उनके साथ क्या-क्या हुआ, दामिनी सवाल करने लगती हैं कि क्या तुम पागल हो गई हो, और उन्हें इससे क्या मिलेगा कि उन्होंने उनके बीच दरारें पैदा कर दीया हैं, राधा कहती हैं कि चाहे जो भी हो, सच्चाई आज सामने आएगी और सबको पता चलेगी । मोहन दोनों को रोकने लगता हैं और त्रिवेदी जी को चेतावनी देते हैं कि वे अपनी माँ से ऐसे बिलकुल भी बात न करें, उन्हें कहते हैं कि इससे ही उनके साथ यह सब हुआ हैं क्योंकि उन्हें उनकी माँ के साथ कुछ शब्द कहने पर नाराज़गी भी हुई थी।

त्रिवेदी जी समझाते हैं कि राधा ने उन्हें इस घर का एक शो पीस तो बना ही दिया हैं, वह उन्हें दायन के रूप में दोषी ठहराते हैं। मोहन अपने आप को रोक नहीं पाते और त्रिवेदी जी को धक्का देते हैं, उन्हें समझाते हैं कि उनकी माँ दायन नहीं हैं, बल्कि उन्हीं की गलती हैं। मोहन उन्हें याद दिलाते हैं कि माँ ने तो सब कुछ संभाला हैं, व्यापार से लेकर उनके बच्चों की देखभाल तक।

परिवार की चिंता और उसके दरम्यान का विवाद (Radha Mohan 21st July 2023 Written Update)

मोहन बताते हैं कि उसने उनके साथ खड़े होकर सबको सब कुछ दिया है, ताकि वह त्रिवेदी जी की जगह ले सके। उसके आंसू पोंछते हुए वह समझाता है कि वह हजारों बार भी कोई उसकी ऋण को चुका नहीं सकता, क्योंकि उसने उसे एक पिता के प्यार का भी अनुभव कराया है, और अगर दामिनी गुंगुन की माँ की आधी भी मोहब्बत करती है तो वह खुश रहेगी। राधा उसबको समझाने की कोशिश करती है, लेकिन मोहन बताते हैं कि आज उसने उसकी सभी आशाएं तोड़ दी हैं, उसकी मां त्रिवेदी जी के कारण रो रही हैं, इसलिए मै कुछ भी सुनना नहीं चाहता। यह देख कर पूरा परिवार चिंतित हो जाता है।

त्रिवेदी जी फिर से मोहन से अनुरोध करने लगते हैं, लेकिन वह पंडित जी से रस्मों की शुरुआत करने को कहता हैं, मिस्टर त्रिवेदी जमीन पर गिर जाते हैं, सभी उसकी मदद करने के लिए भागते हैं, लेकिन मोहन कहता हैं कि वह थोड़ी देर में उठ जाएंगे और उसका किसी का ध्यान रखने की क्षमता नहीं हैं। राधा फिर से उससे अनुरोध करती हैं कि वह सुने, गुंगुन भी उससे बिनती करती हैं कि वह दामिनी से शादी बिलकुल भी नहीं करें और सबकी बात सुनें, मोहन गुस्से से कहते हैं कि वह न तो उसकी बात सुनेगा और न ही राधा की। कदंबरी अजीत से कहती हैं कि वह त्रिवेदी जी को अंदर ले जाएं। तुलसी सबको चेतावनी देती हैं कि वह बड़ी गलती कर रहे हैं।

और दामिनी अपनी माँ को चुपके से कहती है कि कोई भी मेरी शादी को रोक नहीं सकता, फिर मोहन ने पंडित जी से शुरू करने को कहा, पंडित जी ने बताया कि बिलकुल शादी नहीं सकती। राधा, परिवार वाले सभी के साथ तनाव में हैं जबकि गुंगुन देख कर मुस्कराती है, दामिनी ने पूछा वह क्या कह रहे हैं, कदंबरी ने पूछा कि शादी होने का कारण क्या है, उन्होंने जवाब दिया कि शुभ मुहूर्त समाप्त हो गया है और वह चार घंटे बाद वापस आएगा, तब तक उन्हें इंतजार करना होगा, उन्होंने कहा कि कदंबरी जी ने उनसे यह विधि करने का आग्रह किया है क्योंकि यही वह कर रहे हैं, तुलसी चिल्लाई कि राधा को मोहन से बात करने का समय मिल गया।

कवेरी की सलाह और गुंगुन का संघर्ष (Radha Mohan 21st July 2023 Written Update)

फिर कावेरी ने दामिनी से चुपके से कहा है कि तब तक राधा विवाह रोकने का तरीका निकाल लेगी, दामिनी ने सुझाव दिया कि वे रस्में तो पूरी कर लें ।तुलसी ने सुझाव दिया कि राधा को मोहन को दामिनी के बारे में पूरा सच बता देना चाहिए था। दामिनी ने कमरे में प्रवेश करते हुए कावेरी को बताया कि अब मोहन इस शादी को रोकेगा नहीं, वह बिजली को चालू करते हैं और उन्हें वहां बैठे कदंबरी को देख कर चौंक जाते हैं, इसलिए पूछते हैं कि वह क्या कर रही हैं, कदंबरी सवाल करती है कि दामिनी ने उन्हें अपनी इच्छाओं को पूरा करने के लिए यह सब क्यों किया, दामिनी ऐसा मान रही हैं जैसे उसे कुछ भी नहीं पता है, कदंबरी उसे दोषी ठहराती है कि उसने मिस्टर त्रिवेदी को पिलाया और राधा उसे ढूंढने गई थी, उससे पूछती है कि उसने उन्हें क्या बताने की कोशिश की थी लेकिन दामिनी जिद्दी होती है और कहती है कि मुझे कुछ भी पता नहीं है।

कदम्बरी बताती है कि वह उतनी मूर्ख नहीं हैं जितना समझ रही हो , कावेरी खुद को समझाती हैं कि ऐसी कोई बात नहीं है जब कदम्बरी उसे चेतावनी देती हैं कि वह कभी भी राधा को नुकसान पहुंचाने की बिलकुल भी कोशिश न करें, दामिनी उसे रोकते हुए समझाती हैं कि वह अभी तक शादी नहीं हुई हैं और आराम नहीं कर सकतीं क्योंकि राधा भी शादी को रोकने की पूरी कोशिश करेगी। कावेरी प्रतिशोध करती हैं कि कुछ नहीं होगा और वह त्रिवेदी जी से बात करने जा रही हैं।

कवेरी की सलाह और गुंगुन का संघर्ष (Radha Mohan 21st July 2023 Written Update)

दामिनी अपने कमरे में बैठी है और सोच रही है कि वह इन चार घंटों में शांत कैसे रह सकती है, कवेरी कहती है कि तुलसी और राधा उनके खिलाफ हैं और गुंगुन भी मेरी ओर से वह नहीं है, और अंत में विश्वनाथ भी बड़े गुस्से में घर आए हैं, उसे भगवान जी से प्रार्थना करते हुए कहती है जबकि दामिनी खुद ही कहती है कि वह सिर्फ राधा की सुनते हैं। गुंगुन छुपकर बाहर आती है और सोचती है कि भगवान जी उसके साथ हैं क्योंकि वह सच्चाई की ओर है, और गुंगुन क़सम खाती है कि वह दामिनी को अपनी माँ बिलकुल भी नहीं बनने देगी।

गुंगुन कदंबरी से बिनती करने लगती हैं कि राधा को मोहन से बात करने तो दे, कदंबरी समझाती हैं कि बच्चों को बड़ों के बीच में बिलकुल बोलना नहीं चाहिए, गुंगुन समझाती हैं कि वे अपने से पापा से राधा को बात करने दें, कदंबरी दरवाज़ा बंद कर देती हैं जब राधा समझाती हैं कि वह मोहन से बात करनी हैं। कदंबरी पूछती हैं कि वह ऐसा क्यों कर रही हैं, क्योंकि मुझे मोहन से प्रेम हैं।

दोस्त, राधा के प्यार और समर्पण की कहानी को सुनकर यह स्पष्ट हो गया है कि वह वास्तव में एक अद्भुत और सार्थक इंसान है। उसका प्यार मोहन के प्रति वास्तव में बिलकुल निःस्वार्थ है और वह उसे सिर्फ शादी के लिए नहीं, बल्कि बिलकुल व्यक्तिगत संबंधों के साथ रखने के लिए चाहती है। राधा जानती है कि मोहन को दामिनी के खतरे से बचाना ही महत्वपूर्ण है और उसकी कार्यशैली ने हर किसी को अपनी ज़रूरत समझाने में मदद की है।

Conclusion

राधा मोहन की कहानी, राधा कोशिश करने लगती हैं की सत्य बोलने की और मोहन को दामिनी से इस धोखाधड़ी से बचाने की, लेकिन कदंबरी और संदेहवादी मोहन से विरोध का सामना भी करना पड़ता है। और गुंगुन का समर्थन इस स्थिति में एक और नई मोड़ ला देता है। इस एपिसोड से सभी दर्शक को उत्सुकता है कि अगले मोड़ पर क्या होने वाला हैं और क्या राधा का सत्य आख़िरकार उजागर भी हो जायेगा।

FAQ

राधा मोहन सीरियल में तुलसी की मृत्यु कैसे हुई?

राधा मोहन सीरियल में तुलसी की मृत्यु आग लगने से हुई थी। और तुलसी और मोहन एक-दूसरे से बहुत प्यार करते थे,उन दोनो का ब्रेकअप हो गया जिसके बाद तुलसी ने घर छोड़ दिया था, अचानक सबके सामने खबर आई कि तुलसी ने आग लगाकर आत्महत्या कर ली है,पर सचाई सामने आई की तुलसी की मौत में दामिनी का भी हाथ था।

अन्य पढ़े –

 

1 thought on “Radha Mohan 21st July 2023 Written Update | त्रिवेदी जी के साथ एक रहस्यमयी बातचीत”

Leave a Comment

... ...