How To Play Chess In Hindi? जानिए शतरंज चैस के नियम और खेलने की टिप्स

How To Play Chess In Hindi,शतरंज कैसे खेलें? इस आसान गाइड में हम आपको शतरंज खेलने के बेहद सरल तरीकों का ज्ञान देंगे। अगर आप शतरंज सीखना चाहते हैं, तो यह पोस्ट आपके लिए है। शतरंज के मूल नियमों को समझें और मास्टर बनें।

शतरंज का परिचय(Introduction to chess)

शतरंज, जिसे चेस भी कहा जाता है, यह एक बहुत प्राचीन खेल है। इस खेल को एक शतरंजबोर्ड पर दो लोग खेलते हैं और इसे समझने के लिए अभ्यास की आवश्यकता होती है। शतरंज एक मानसिक उत्तेजनादायक खेल है जो मानसिक व्यायाम प्रदान करता है। खेल मानव जीवन में महत्वपूर्ण होते हैं क्योंकि वे मनोरंजन का स्रोत के रूप में कार्य करते हैं। मनोरंजन सभी आयुवर्गों के लिए आवश्यक है, और यह केवल शारीरिक गतिविधि प्रदान करने के साथ-साथ मानसिक तनाव को कम करने में भी मदद करता है। मनोरंजन के विभिन्न साधन होते हैं, जैसे कि खेल, टेलीविजन, कंप्यूटर, मोबाइल, आदि। खेल आंतरिक और बाहरी दोनों हो सकते हैं, और आप अपनी पसंद के अनुसार चुन सकते हैं।

शतरंज, एक मनोरंजन है जिसके बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए, हमें इस खेल के रोचक और महत्वपूर्ण पहलुओं को समझना आवश्यक है।

चेस: एक अद्वितीय खेल (Chess: A Unique Game)

चेस, जो एक इंडोर गेम है, उसमें कोई आयु सीमा नहीं होती है। इसे केवल समझदार व्यक्ति ही खेल सकता है। चेस के खेलने का अनुभव न केवल खिलाड़ी के लिए बल्कि उनके दर्शकों के लिए भी आनंददायक होता है।

चेस का इतिहास (History of Chess Game)

चेस का इतिहास कुछ 2000 साल पहले के दौरान शुरू हुआ था। गुप्त साम्राज्य के दौरान (280-550 AD) लोग इस तरह के खेल का आनंद लेते थे। फिर, 1200 के आसपास, यूरोप में चेस का प्रसार हुआ और 1475 के आसपास, इसे वर्तमान रूप में खेलने का प्रारंभ किया गया। स्पेन और इटली में बदलाव के साथ यह खेल प्रसारित हुआ।

शतरंज के नियम और नियम पुस्तिका (Chess Rules and Rulebook)

शतरंज एक खिलाड़ी के विरुद्ध खेला जाता है, जिसमें बोर्ड पर 64 खाने होते हैं, सफेद और काले रंग में। प्रत्येक टीम के पास 16 पीसेस होते हैं, जिसमें शामिल होते हैं 1 राजा, 1 रानी, 2 हाथी, 2 घोड़े, 2 ऊँठ, और 8 प्यादे। इस खेल का उद्देश्य विरोधी खिलाड़ी को शाह और मात (चेकमेट) देना होता है। चेकमेट तब होता है जब एक खिलाड़ी दूसरे के राजा को कब्ज़ा कर लेता है और उसे बचाने का कोई उपाय नहीं होता।

शतरंज एक मनोरंजन है जो दिमागी चुनौती प्रदान करता है और खिलाड़ियों को ब्रेन पॉवर और लड़ाई कौशल में सुधार करने का अवसर प्रदान करता है।

शतरंज का आसान सीखने का तरीका

चेस के खेल की प्रारंभ में हर बार गोटियों की व्यवस्था बदलती है। प्रतिस्पर्धी खिलाड़ी सफ़ेद और काली गोटियों को बोर्ड पर आयोजित करते हैं।

चेस बोर्ड के कोनों में हाथियों को स्थान देने के बाद, उन्होंने बाजू के कोनों में घोड़ों को रखा। उसके बाद उन्होंने बाजू के कोनों में होर्स रखा। फिर उन्होंने बाजू की दोनों ओर एक-दूसरे कोनों में राजा और रानी को स्थित किया।

इनके सामने की पंक्ति में 8 प्यादे बैठे होते हैं, और जो भी खिलाड़ी सफ़ेद गोटी चुनता है, वह पहले चलने का अधिकार प्राप्त करता है।

यह रूचिकर तरीके से खेल की प्रारंभिक सेटिंग है जो हर खेल में नयी दिशा देती है, इससे खेल को दिनामिक और आकर्षक बनाती है, और यह सुनिश्चित करती है कि जीत पाने के लिए खिलाड़ी को सबकुछ पर्याप्त तरीके से सोचकर और खेलकर पूर्णत: निष्पक्ष रूप से जीत सकते हैं।

गोटियाँ कैसे खेलें (How To Play Chess In Hindi)

चेस खेल के लिए हर गोटी के अपने खास नियम होते हैं। प्रत्येक गोटी को निश्चित स्थान पर एक विशेष चाल की अनुमति होती है। कोई गोटी दूसरी गोटी के ऊपर से नहीं चल सकती है, जबकि सामने वाली गोटी को मार सकती है। अगर गोटी आपकी है, तो आपके पास उसे ऊपर से नहीं चलाने का अधिकार होता है।

गोटियों की खासियत

  • राजा:- यह खेल का मुख्य गोटी होता है, लेकिन यह सबसे कमजोर भी होता है। राजा केवल एक कदम किसी भी दिशा में ऊपर, नीचे, आगे, या पीछे चल सकता है।
  • रानी:- रानी या वजीर बहुत ताकतवर होती है और किसी भी दिशा में तिरछा, सीधा, आगे या पीछे वर्ग चल सकती है।
  • हाथी:- हाथी किसी भी दिशा में चल सकता है और यह खड़ा या आड़ा चल सकता है, लेकिन तिरछा नहीं। दो हाथियों की जोड़ी एक साथ काम करती है और एक दूसरे की सुरक्षा करती है।
  • ऊँठ:- ऊँठ भी तिरछा ही चल सकता है और दो ऊँठ मिलकर काम करते हैं, अपनी कमजोरी को छिपाते हुए।
  • घोड़ा:- घोड़े की चाल बाकी गोटियों से अलग होती है। यह ल आकार की चाल में ढाई घर चल सकता है और अन्य गोटियों के ऊपर से भी चल सकता है।
  • प्यादा:- प्यादा एक सैनिक की तरह काम करता है, एक कदम आगे चलता है और तिरछा चाल में मार सकता है। प्यादा एक ही वर्ग में एक कदम मार सकता है, पहली चाल में दो कदम मार सकता है और समय के साथ प्रोमोशन के बाद दूसरे गोटियों की तरह चलता है।

चेस खेल के गोटियों की यह विशेषताएँ उनको खास बनाती हैं और इन्हें एक सफल रणनीति की तरह खेलना होता है। अगर आप चेस गेम में ऊपर के स्थान पर आना चाहते हैं, तो इन गोटियों के खासियतों को समझना अत्यंत महत्वपूर्ण है।

शतरंज खेल में कुछ विशेष नियम (Chess Game Some Special Rule) होते हैं

1. कैसलिंग: राजा और हाथी की खास चालें

कैसलिंग (Castling) – यह एक विशेष नियम है जिसमें आप दो कदम एक साथ चल सकते हैं. इसमें राजा को बचाया जा सकता है और हाथी को कार्नर से खेल के बीच में लाया जा सकता है. कैसलिंग के लिए कुछ महत्वपूर्ण शर्तें होती हैं:-

  • कैसलिंग एक विशेष नियम है, जिसमें खिलाड़ी एक ही चाल में राजा को बचा सकते हैं और हाथी को कार्नर से बीच खेल में ला सकते हैं.
  • खिलाड़ी अपने राजा को दो खोकों तक चला सकते हैं और हाथी को राजा के पास ले जा सकते हैं.
  • कैसलिंग के लिए निम्नलिखित शर्तें होनी चाहिए:-
  1. कैसलिंग राजा द्वारा केवल एक बार किया जा सकता है.
  2. राजा की पहली चाल कोई अलग चाल नहीं होनी चाहिए.
  3. हाथी की पहली चाल कोई अलग चाल नहीं होनी चाहिए.
  4. राजा और हाथी के बीच कोई गोटी नहीं होनी चाहिए.
  5. राजा के ऊपर शह या मात नहीं होना चाहिए.

2.शह और मात: खेल की विफलता का कारण

  1. जब राजा को सभी ओर से शह (Check) हो जाती है और राजा उससे बच नहीं सकता, तो वह शह और मात (Checkmate) कहलाता है.
  2. शह और मात से बचने के तरीके:
  • राजा को उस जगह पर चलाएं जहाँ से वह शह हो जाएँ.
  • चेक के बीच में दूसरी गोटी लाएं.
  • शह वाली गोटी को मार दें.

3.अगर राजा शह और मात से बच नहीं पाता, तो खेल समाप्त हो जाता है.

3.टाई (ड्रा): खेल का बराबरी का परिणाम

  1. जब कोई भी खिलाड़ी खेल में विजेता नहीं बन पाता, तो उस स्थिति को ड्रा (Draw) कहा जाता है.
  2. ड्रा होने के पांच कारण हो सकते हैं:
  • दोनों खिलाड़ी सहमत हो जाते हैं और खेल बंद कर देते हैं.
  • अगर बोर्ड पर शह और मात के लिए अब गोटी नहीं बची हो.
  • कोई खिलाड़ी उस स्थिति में ड्रा देख सकता है, जब लगातार तीन बार एक सी स्थिति बन जाती है.
  • अगर कोई खिलाड़ी चल करता है, लेकिन उसके राजा को शह और मात नहीं है, और उसके पास और चाल चलने के लिए जगह नहीं है.

3.याद रखें, शतरंज का खेल सीखने के लिए प्रैक्टिस करने की आवश्यकता है और यह आपको दिमागी और शारीरिक स्वास्थ्य के लिए एक श्रेष्ठ विकल्प हो सकता है.आजकल शतरंज को मोबाइल और कंप्यूटर पर भी खेला जा सकता है, और इसे सीखने का सुनहरा मौका है .

Conclusion

इस शतरंज के पोस्ट में हमने शतरंज के कुछ विशेष नियमों का अध्ययन किया है, जो इस खेल को और भी रोचक बनाते हैं। कैसलिंग, शह और मात, और ड्रा जैसे नियम शतरंज के खेल में महत्वपूर्ण हैं और इन्हें समझने से आपके खेलने की क्षमता में सुधार हो सकता है।

शतरंज एक ब्रिलियंट बोर्ड गेम है जिसमें लोजिकल सोचने का और रणनीति बनाने का मौका मिलता है। आपके दिमाग को चुस्त रखने के साथ-साथ, यह आपके व्यक्तिगत विकास में भी मदद कर सकता है। इसलिए, शतरंज को सीखने और खेलने का मनोरंजन का साथ-साथ, आप इसे एक साधारण खेल से ज्यादा एक सीखने और विकसित होने का एक उपाय भी मान सकते हैं।

FAQ’s

प्रश्न: क्या कैसलिंग क्या है और इसे कैसे किया जाता है?
उत्तर: कैसलिंग एक विशेष शतरंज नियम है जिसमें खिलाड़ी अपने राजा को दो खोकों तक चला सकते हैं और हाथी को कार्नर से बीच खेल में ला सकते हैं।

प्रश्न: शतरंज के शह और मात क्या होते हैं?
उत्तर: शतरंज में जब राजा को सभी ओर से शह (Check) हो जाती है और वह उससे बच नहीं सकता, तो इसे शह और मात (Checkmate) कहते हैं.

प्रश्न: कैसे खेल में ड्रा होता है?
उत्तर: ड्रा खेल में होता है जब कोई भी खिलाड़ी विजेता नहीं बन पाता है, और इसके पांच प्रमुख कारण हो सकते हैं, जैसे कि दोनों खिलाड़ी सहमत हो जाएँ और खेल बंद कर दें।

प्रश्न: शतरंज का खेल सीखने के लिए कौन-कौनसे माध्यम उपलब्ध हैं?
उत्तर: आजकल शतरंज को मोबाइल और कंप्यूटर पर भी खेला जा सकता है, और इसे सीखने का सुनहरा मौका है, जहाँ पर खेल को सीखा भी जा सकता है।

प्रश्न: शतरंज को सिखने के क्या फायदे हैं?
उत्तर: शतरंज को सीखने और खेलने से आपके दिमाग को चुस्त रखने के साथ-साथ, यह आपके व्यक्तिगत विकास में भी मदद कर सकता है। यह एक खेल है जिसे प्रैक्टिस करने की आवश्यकता है और यह आपको रणनीति बनाने का और भी आसान मौका प्रदान कर सकता है।

शतरंज कैसे खेला जाता है?

चेस एक खेल है जिसमें एक 64 खानों वाला बोर्ड होता है, जिसमें हर खाना दो अलग-अलग रंगों का होता है। इस खेल में दो खिलाड़ियों के बीच मुकाबला होता है, जो आमने-सामने खड़े होते हैं। प्रत्येक खिलाड़ी के पास 16 मोहरे होते हैं: 1 राजा, 2 हाथी, 2 ऊँट, 2 घोड़े और 8 प्यादे। एक बोर्ड, दो खिलाड़ी और 32 मोहरे के साथ, आपको एक खेल शुरू करने के लिए सब तैयार है।

यह भी पढ़े

2 thoughts on “How To Play Chess In Hindi? जानिए शतरंज चैस के नियम और खेलने की टिप्स”

Leave a Comment

... ...